50) आसिफा

ENGLISH version: http://literaryimpulse.com/poem/178/the-hindu-times/

मैं एक हिन्दु हूँ और
मुझे छोटी छोटी लड़कियों
का क़त्ल और बलात्कार
करने में मजा आता है

क्या वो मुस्लिम थी
और मुझे उसका बलात्कार करने में मजा आया?
और क्या वो सिर्फ एक छोटी सी नादान लड़की
थी, जिसने अपना पहला पीरियड भी नहीं देखा था?

क्या सिर्फ ये कारण है की मैं
एक हिन्दू और
मुझे छोटी छोटी लड़कियों
का क़त्ल और बलात्कार
करने में मजा आता है

मुझे अपने ऊपर गर्व है!
हाँ!, मुझे ऊपर गर्व है
की आज भी १९४७ का वो लम्हा कायम है
जिसमें छोटी छोटी लड़कियों का बलात्कार किया गया था
आज़ादी का वो लम्हा!

मुझे अपने ऊपर गर्व है!

और मंदिर
एक छोटी लड़की
की योनि की मांस, खून
और वसा से लतपत हैं

माफ़ कीजिये
मुझे योनि शब्द नहीं कहना चाहिए था
मुझे पीरियड नहीं कहना चाहिए था
मुझे नहीं कहना चाहिए था
औरत, मासिक धर्म और जीन्स

जीन्स?
जीन्स तो सबसे गंदा शब्द है
फक जीन्स!
और जीन्स की जरुरत ही किसीको है?
मैं तो बुर्के से ही काम चला लेता हूँ

हम सामान्य आदमी हैं
हम हिन्दू हैं और
हमें अपने पे गर्व है!

मैं हिन्दू हूँ
मैं मुसलमान हूँ मैं
एक सूअर हूँ

और वो देखो! हा हा
अब सूअर मुझसे कह रहे हैं
“सूअर हिन्दू नहीं हैं!”

मैं एक हिन्दु हूँ और
गाय मेरी माता है
मैं उन बेदर्द मुसलमानों की तरह गाय नहीं खाता
मैं छोटी छोटी लड़कियों को खता हूँ

एक छोटी लड़की काफी है मेरे लिए
मेरा लिंग ही नहीं इतना
की वो एक बड़ी लड़की को संतुष्ट कर सके
जो मुझसे प्यार कर सके.

error: Content is protected !!